Best Hindi Shayari – फ़कत रेशम सी गांठे थी



फ़कत रेशम सी गांठे थी ,
जरा सा खोल लेते तुम….
अगर दिल में शिकायत थी ,
जुबाँ से बोल देते तुम….!!!!