Sher O Shayari 2 Lines – अजनबी से नज़र

अजनबी से नज़र आये तेरे चेहरे के नाकोश
जब तेरे हुस्न पे मेने नज़र-ए-सानी की