Hindi Suvichar – जो नज़र बचा के

जो नज़र बचा के ग़ुज़र गये, मेरे सामने से अभी अभी
ये मेरे ही शहर के लोग थे, मेरे घर से घर है मिला हुआ