Hindi Sher O Shayari – ए जिन्दगी तू अपनी रफ़्तार

ए जिन्दगी तू अपनी रफ़्तार पे ना इतरा,
जो रोक ली मैंने अपनी साँसे तो तू भी चल ना पाएगी