Hindi Shayari Two Lines – वक़्त करता है

वक़्त करता है परवरिश बरसों
हादिसा एक दम नहीं होता