Hindi Shayari In 2 Lines – हर एक साँस का तू

हर एक साँस का तू एहतराम कर वरना,
वो जब भी चाहे, जहाँ चाहे , आखिरी कर दे…