Hindi Shayari In 2 Lines – मै अज्म्मत ए इंसान

मै अज्म्मत-ए-इंसान का कायल तो हूँ
लेकिन कभी बन्दों की इबादत नहीं करता ।।