Hindi Shayari 2 Lines – मैं माथा कही भी



मैं माथा कही भी टेक सकता हु,
पर घुटने नहीं……….


....कुछ उम्दा शेरो शायरी…इन्हे भी पढ़े…