Hindi Poetry In 2 Lines – बड़ी मुश्किल से सुलाया है

बड़ी मुश्किल से सुलाया है ख़ुद को मैंने,
अपनी आंखों को तेरे ख़्वाब क़ा लालच देकर.