Hindi Poetry In 2 Lines – दमे रुखसत है

दमे-रुखसत है क़रीब ऐ गमे-फुरकत खुश हो
करने वाले है जुदाई के इशारे आंसू