Hindi Poetry In 2 Lines – तलाक़ दे तो रहे हो



तलाक़ दे तो रहे हो,
ग़ुरूर-ओ-क़हर के साथ…
के मेरा शबाब भी लौटा दो,,
मेरे मेहर के साथ……


....कुछ उम्दा शेरो शायरी…इन्हे भी पढ़े…