Best Hindi Shayari – दर्द हॅुं इसलिए तो

दर्द हॅुं इसलिए तो उठता हॅुं
जख्म होता तो भर गया होता