Best Ahmad Faraz Shayari – इतना न याद आया करो



इतना न याद आया करो कि रात भर सो न सकें फ़राज़
सुबह को सुर्ख आखों का सबब पूछते हैं लोग


....कुछ उम्दा शेरो शायरी…इन्हे भी पढ़े…