Best 2 Lines Shayari – इक अजनबी झोंके

इक अजनबी झोंके ने जब पूछा मेरे ग़म का सब्बाब
सेहरू की तपती रेत पर मैंने लिखा आवारगी ।।