Ahmad Faraz 2 Lines Shayari – ज़माने के सवालों को मैं



ज़माने के सवालों को मैं हँस के टाल दूँ फ़राज़
लेकिन नमी आखों की कहती है “मुझे तुम याद आते हो”


....कुछ उम्दा शेरो शायरी…इन्हे भी पढ़े…