हिंदी शायरी 4 लाइन – ना वोह आ सके



ना वोह आ सके ना हम कभी जा सके,
ना दर्द दिल का किसी को सुना सके.
बस बैठे है यादों में उनकी,
ना उन्होंने याद किया और ना हम उनको भुला सके.


....कुछ उम्दा शेरो शायरी…इन्हे भी पढ़े…