हिंदी शायरी ४ लाइन में – चांदनी चांद सितारों का

चांदनी, चांद, सितारों का कोई काम नहीं
प्यार के मौन इशारों का कोई काम नहीं
भेजना चाहते हो भेज दो पतझड़, लेकिन
जो नहीं तुम, तो बहारों का कोई काम नहीं।