हिंदी शायरी २ पंक्ति में – देखा खत किताब की



देखा खत, किताब की रसम जारी रखना
भूल न जाना प्यारे प्रियतम याद हमारी रखना ।


....कुछ उम्दा शेरो शायरी…इन्हे भी पढ़े…