हिंदी में शायरी – वक्त थोड़ा है पास मेरे



वक्त थोड़ा है पास मेरे,
पर बहुत कुछ अभी करना बाकी है।

वो जख्म जो अपनों ने दिये,
उसे भी भरना बाकी है।


....कुछ उम्दा शेरो शायरी…इन्हे भी पढ़े…